Connect with us

सरकार ने कोरोना महामारी के बावजूद वर्चुअल माध्यम से 4000 करोड़ की विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित की: CM

Latest

सरकार ने कोरोना महामारी के बावजूद वर्चुअल माध्यम से 4000 करोड़ की विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित की: CM

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज अपने विधानसभा क्षेत्र सराज के एक दिवसीय दौरे के दौरान बाड़ा में लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने कोरोना महामारी के बावजूद वर्चुअल माध्यम से प्रदेश में विभिन्न भागों में 4000 करोड़ रुपये की लागत की विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में 412 नई पंचायतें सृजित कीं, जबकि गत 15 वर्षों में एक भी पंचायत सृजित नहीं की गई। उन्होंने कहा कि सराज विधानसभा क्षेत्र में 20 पंचायतें सृजित की गई हैं। प्रदेश के इतिहास में एक मुश्त इतनी बड़ी संख्या में पंचायतों का सृजन नहीं हुआ है। उन्होंने क्षेत्र के लोगों से निर्बाध विकास सुनिश्चित करने के लिए भरपूर सहयोग देने का आग्रह किया।

मुख्यमंत्री ने बाड़ा में कृषि प्रसार केन्द्र, पंचायत भवनों के निर्माण के लिए इस क्षेत्र की तीन पंचायतों को 10-10 लाख रुपये, सम्पर्क सड़कों के निर्माण के लिए तीन पंचायतों को 10-10 लाख रुपये, बाड़ा में प्राथमिक पाठशाला में तीन अतिरिक्त कमरों व परीक्षा भवन के निर्माण के लिए तीन लाख रुपये की घोषणा की।

जय राम ठाकुर ने क्योलीधार में लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार उन क्षेत्रों के विकास पर विशेष ध्यान दे रही है जो किन्हीं कारणों से आज तक उपेक्षित रहे। उन्होंने क्षेत्र में सम्पर्क सड़क के निर्माण के लिए 10 लाख रुपये, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला क्योलीधार में कला मंच के निर्माण के लिए पांच लाख रुपये और इस विद्यालय में काॅमर्स की कक्षाएं आरम्भ करने की घोषणा की। उन्होंने क्योलीधार में फोरेस्ट गार्ड हट की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने धरोट में जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश में महामारी फैलने के समय प्रदेश में केवल 50 वैंटीलेटर ही उपलब्ध थे, जबकि आज प्रदेश में 600 वैंटीलेटर कार्यशील हैं, जिनमें से 500 वैंटीलेटर केन्द्र सरकार द्वारा राज्य को उपलब्ध करवाए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी फैलने के समय देश में फेस मास्क और पीपीई किट का भी उत्पादन नहीं होता था, जबकि आज इन आवश्यक वस्तुओं में आत्मनिर्भर हुआ है बल्कि विभिन्न देशों को इनका निर्यात भी कर रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में केवल एक आॅक्सीजन संयंत्र था, जबकि आज 10 कार्यशील आॅक्सीजन संयंत्र हैं और 28 संयंत्र शीघ्र स्थापित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने कोविड वैक्सीन की शून्य प्रतिशत वैस्टेज के लक्ष्य को हासिल किया है।

मुख्यमंत्री ने बस्सी में स्वास्थ्य उप केंद्र, वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बस्सी, देवधार और डडोह में विज्ञान की कक्षाएं शुरू करने, माध्यमिक पाठशाला बाहवा को उच्च पाठशाला के रूप में स्तरोन्नत करने और वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला खारसी में विज्ञान खंड का निर्माण करने और खेल मैदान बनाने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने कोटला पंचायत भवन निर्माण के लिए 10 लाख रुपये, मझोठी में जल शक्ति निरीक्षण हट का निर्माण करने, जाजर में सामुदायिक खेल मैदान निर्माण के लिए 5 लाख रुपये, सलाहर में बागवानी विस्तार केंद्र खोलने, उच्च पाठशाला धरोट को वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के रूप में स्तरोन्नत करने और स्थानीय महिला मंडल भवन के लिए 3 लाख रुपये देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि डडोह में हैलीपैड भी बनाया जाएगा। 

मुख्यमंत्री ने एससीएसपी परियोजना के अन्तर्गत 24 रेशम उत्पादक किसानों को 2-2 लाख रुपये मूल्य के रेशमकीट पालन किट, पालन गृह और शहतूत रोपण के लिए सहायता भी वितरित की।

Facebook Comments Box
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top