Connect with us

सिंगापुर से भारत आ रहा है क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंक, यह है खासियतें

Cryogenic tankers

Latest

सिंगापुर से भारत आ रहा है क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंक, यह है खासियतें

भारत सरकार ने ऑक्सीजन और चिकित्सा आपूर्ति में सुधार के लिए पिछले कुछ दिनों में कई निर्णय लिए हैं। जहां वायुसेना का विमान सिंगापुर से क्रायोजेनिक (कम तापमान बनाए रखने में सक्षम) ऑक्सीजन टैंक ला रहे हैं, जिनका उपयोग ऑक्सीजन को देश के विभिन्न हिस्सों में पहुंचाने के लिए किया जाएगा। इसके अलावा वायुसेना के विमान यात्रा समय को कम करने के लिए देश में ऑक्सीजन टैंकर का परिवहन भी किया जा रहा है।

कोविड वैक्सीन, ऑक्सीजन और उससे जुड़े उपकरण के आयात पर सीमा शुल्क से छूट

इस बीच सरकार ने ऑक्सीजन और उससे जुड़े उपकरणों पर अगले 3 महीने के लिए आयात शुल्क और स्वास्थ्य उपकर समाप्त कर दिया है। इसके अलावा कोविड-19 वैक्सीन पर भी अगले 3 महीने तक आयात संबंधी सीमा शुल्क नहीं लगेगा। सरकार का मानना है कि इससे यह उत्पाद सस्ती दरों में मिलेंगे और इन उत्पादों की उपलब्धता में वृद्धि होगी।

oxygen container

सिंगापुर से भारत आ रहा है क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंक, यह है खासियतें

ऑक्सीजन की आपूर्ति पर की समीक्षा बैठक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देशभर में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने से जुड़े कदमों को लेकर एक समीक्षा बैठक की। प्रधानमंत्री ने राजस्व विभाग को कोविड-19 में जरूरी उत्पादों की कस्टम क्लीयरेंस को जल्द और आसान बनाने के निर्देश दिए हैं। प्रधानमंत्री के निर्देश के बाद राजस्व विभाग ने कस्टम से जुड़े संयुक्त सचिव गौरव मसलदन को नोडल अफसर नियुक्त किया है।

ऑक्सीजन उत्पादन, भंडारण और वितरण से जुड़े उपकरण सीमा शुल्क से मुक्त

शनिवार को हुई इस घोषणा में ऑक्सीजन उत्पादन, भंडारण और वितरण से जुड़े उपकरण और वेंटिलेटर शामिल हैं। इसके अलावा इन उपकरणों में उपयोग होने वाले स्पेयर पार्ट को भी आयात शुल्क से मुक्त रखा गया है।

 तालमेल से काम करने की जरूरत 

बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने लोगों के घरों और अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन और अन्य जरूरी उपकरण उपलब्ध कराए जाने को कहा। इस संबंध में पीएम ने जोर देकर कहा कि सभी मंत्रालयों और विभागों को ऑक्सीजन और चिकित्सा आपूर्ति की उपलब्धता बढ़ाने के लिए तालमेल से काम करने की जरूरत है। साथ ही उन्होंने कहा कि मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने के साथ-साथ घर और अस्पतालों दोनों में मरीजों की देखभाल के लिए आवश्यक उपकरण की जरूरत है। प्रधानमंत्री को बैठक में बताया गया कि रेमडेसिवीर का बुनियादी सीमा शुल्क पहले ही हटाया जा चुका है।

पीएम की इस समीक्षा बैठक में वित्त मंत्री, वाणिज्य और उद्योग मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, सदस्य नीति आयोग, डॉ. गुलेरिया और राजस्व विभाग के सचिव, स्वास्थ्य और डीपीआईआईटी से जुड़े अन्य अधिकारियों ने भाग लिया।

Facebook Comments Box
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top