Connect with us

जानिये मिल्खा सिंह से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण रिकार्ड्स और सम्मान

Milkha Singh Records

Latest

जानिये मिल्खा सिंह से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण रिकार्ड्स और सम्मान

फ्लाइंग सिख के नाम से मशहूर मिल्खा सिंह (Milkha Singh) का शुक्रवार 18 जून 2021 को निधन हो गया। उनके नाम से कई महत्वपूर्ण रिकार्डस और सम्मान हैं, जो इस प्रकार से है। उन्होंने 1956 के मेलबर्न ओलंपिक खेलों में 200 और 400 मीटर मुकाबले में भारत की नुमाइंदगी की। वर्ष 1958 में मिल्खा सिंह ने कटक में आयोजित भारतीय राष्ट्रीय खेलों की 200 और 400 मीटर दौड़ में रिकॉर्ड स्थापित किया और इसी फॉर्मेट में एशियाई खेलों में सोने का तमगा जीता। इसी वर्ष मिल्खा सिंह ने ब्रिटिश एंपायर के कॉमनवेल्थ खेलों में 400 मीटर दौड़ को रिकॉर्ड तोड़ समय में जीतकर सोने का तमगा प्राप्त किया। इस उपलब्धि के चलते मिल्खा सिंह आजाद भारत के पहले सोने का तमगा वाले खिलाड़ी बने।

मिल्खा सिंह के बाद विकास गोंडा ने वर्ष 2014 में सोने का तमगा जीता था। वर्ष 1962 में जकार्ता में आयोजित एशियाई खेलों में मिल्खा सिंह ने 400 मीटर और 400 मीटर रिले रेस में भी सोने का तमगा जीता था। उन्होंने वर्ष 1964 में टोक्यो ओलंपिक खेलों में भी हिस्सा लिया।

एथलेटिक रिकॉर्ड और सम्मान
-प्रथम स्थान, 1958 एशियाई खेल में 200 मीटर दौड़
-प्रथम स्थान, वर्ष 1998 एशियाई खेल में 400 मीटर।
-प्रथम स्थान,1958 कॉमनवेल्थ खेल 440 मीटर यार्ड।
-प्रथम स्थान, 1960 दोस्ताना दौड़ 200 मीटर पाकिस्तान में ( यहीं से उन्हें उड़ता सीख कहा जाने लगा)
-चतुर्थ स्थान, वर्ष 1960 समर ओलंपिक 400 मीटर (नेशनल रिकॉर्ड)।
– प्रथम स्थान, 1962 एशियाई खेल 400 मीटर।
-प्रथम स्थान, 1962 एशियाई खेल 400 मीटर रिले दौड़।
-दूसरा स्थान 1964 कोलकाता राष्ट्रीय खेल।

 

Facebook Comments Box
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top