Connect with us

लाखों कमाने के लिए इस MBA पास किसान से लोग सीख रहे किसानी

This MBA pass farmers earning millions | Side Story

AGRICULTURE

लाखों कमाने के लिए इस MBA पास किसान से लोग सीख रहे किसानी

इन दिनों हरियाणा स्थित कुरुक्षेत्र इलाके के किसान लाखों की कमाई कर रहे हैं। दरअसल, यहां के अधिकतर लोग एमबीए पास किसान अमृतपाल सिंह से किसानी सीख कर ऐसा करने में सक्षम हो रहे हैं। जी हां, अमृतपाल स्वयं मशरूम उत्पादन कर न केवल कम लागत में अधिक आमदनी कर रहे हैं, बल्कि अन्य किसानों के लिए भी प्रेरणा स्रोत बन रहे हैं। इस काम को कामयाबी की नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए अमृतपाल ने अपने हुनर का बखूबी इस्तेमाल किया है।

परम्परागत खेती छोड़कर अपनाया ये नया रास्ता

आज समय की मांग है कि किसान परम्परागत खेती को छोड़कर वैकल्पिक खेती पर जोर दे। ऐसे में किसान मशरूम की खेती कर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। हरियाणा के कुरुक्षेत्र में भोरसौदा गांव के रहने वाले अमृतपाल सिंह बाजवा मशरूम की पैदावार से लाखों की कमाई कर रहे हैं। एमबीए की पढ़ाई के बाद मशरूम का उत्पादन कर रहे अमृतपाल अपने इलाके और प्रदेश के दूसरे किसानों के लिए भी एक उदाहरण बन रहे हैं।

Ravinder Sharma Mushroom Plant25 साल से मशरूम उत्पादन के क्षेत्र में अमृतपाल का परिवार

अमृतपाल बताते हैं कि वे तकरीबन 25 साल से मशरूम उत्पादन के क्षेत्र में कार्यरत हैं। वे बीज से लेकर इसकी खाद तैयार करने व मशरूम की पैदावार करने और मशरूम प्रोसेसिंग जैसे प्रमुख कार्य कर रहे हैं। सिर्फ इतना ही नहीं वे यह भी बताते हैं कि मशरूम प्रोसेसिंग में न केवल वे अपनी मशरूम प्रोसेसिंग कर रहे हैं बल्कि आसपास के इलाकों के किसानों के खेतों की मशरूम को भी प्रोसेसिंग कर रहे हैं।

अपने हुनर से कुछ इस तरह दी कामयाबी को नई ऊंचाइयां

अमृतपाल के परिवार का मशरूम उत्पादन का पुराना काम है। इस काम को और कामयाबी की नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए अमृतपाल ने अपने हुनर का बखूबी इस्तेमाल किया। एमबीए की डिग्री हासिल करने के बाद कहीं नौकरी करने के बजाए अपने पुश्तैनी काम को नया कलेवर देकर रोजगार के लिए चुना। अमृतपाल को मशरूम के उत्पादन में लाखों रुपए की आमदनी हो रही है। आज इन्होंने खुद को तो स्थापित किया ही है साथ ही आसपास से करीब 200 लोगों को रोजगार मुहैया करवाया है। इसके साथ ही अमृतपाल ने मशरूम प्रोसेसिंग यूनिट भी शुरू की है और अब प्रदेश के दूसरे किसान भी उनके फार्म पर प्रशिक्षण लेने पहुंचते हैं।

वाकई उनकी ये पहल खेती किसानी और लघु उद्योग करने वाले युवाओं के लिए एक मिसाल है। किसानों को अपनी आय बढ़ाने के लिए इस तरह की सोच रखने की जरूरत है, जिससे कृषि में किसानों को ज्यादा मुनाफा मिल सके।

Facebook Comments Box
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top