Connect with us

अब चाय पीने के बाद खा सकेंगे गिलास, महाराष्ट्र के तीन युवा इंजीनियरों ने बनाए एडिबल कप

Side Story

अब चाय पीने के बाद खा सकेंगे गिलास, महाराष्ट्र के तीन युवा इंजीनियरों ने बनाए एडिबल कप

महाराष्ट्र के तीन युवा इंजीनियरों ने किया कमाल
सिंगल यूज़ प्लास्टिक से बचाव के लिए विशेष कप
चाय पीने के बाद अब आप खा सकेंगे ये कप
आटे से बनी है ये एडिबल कटलरी

चाय पीने के बाद अब कोई भी उस कप को खा सकता है जिसमें वह चाय या कॉफी पी रहा है। दरअसल महाराष्ट्र के तीन युवा इंजीनियरों ने ऐसे एडिबल कप (Edible cups in India) बनाए हैं, जिन्हें चाय पीने के बाद खाया जा सकता है। यही नहीं ये कप खाने में बेहद स्वादिष्ट भी हैं। कोल्हापुर के तीन युवा इंजीनियरों दिग्विजय गायकवाड़, आदेश करंडे और राजेश खामकर ने इसे मैग्नेट एडिबल कटलरी का नाम दिया है। अब इन युवाओं की योजना पर्यावरण के अनुकूल चम्मच और प्लेट बनाने की भी है जिसके लिए इन्होंने मशीन को डिजाइन किया है।

Edible cups in Indiaप्लास्टिक के इस्तेमाल को कम करना है लक्ष्य

इसे लेकर आदेश करंडे कहते हैं कि जो पर्यावरण के लिए अच्छा हो उसी दृष्टि से हम लोगों ने मिलकर प्रयोग करके एक बिस्किट कप (Biscuit Tea Cup) निकाला है उसमें हम डेवलपमेंट करके आगे हम खाने के लिए प्लेट्स और कटोरी (बाउल) निकालेंगे। हमारा मुख्य उद्देश्य प्लास्टिक के इस्तेमाल को कम करना है। उन्होंने बताया कि ये सभी उत्पाद आटे से बने होते हैं जिन्हें हम आमतौर पर मैदा के रूप में जानते हैं। कोई भी इन उत्पादों को चाय पीने के बाद खा सकता है।

Edible cups in Indiaपर्यावरण के हिसाब से Edible Cutlery बेहतर विकल्प

गौरतलब है कि देश में डिस्पोजेबल कप की बढ़ती हुई मांग के कारण प्लास्टिक कचरे में जबरदस्त वृद्धि हुई है। हालांकि पेपर कप प्लास्टिक के उपयोग को तो कम करते ही हैं लेकिन इससे वनों की कटाई बढ़ जाती है जो फिर से पर्यावरण को खराब करता है। ऐसे में एडिबल कटलरी इसका बेहतर विकल्प साबित हो सकती है।

Facebook Comments Box
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top