Connect with us

उम्र 20 साल, उपलब्धियां ढेर सारी, जानिए फर्राटा धाविका हिमा दास के बारे में

Hima das running photo

MOTIVATION

उम्र 20 साल, उपलब्धियां ढेर सारी, जानिए फर्राटा धाविका हिमा दास के बारे में

भारत की 20-वर्षीय स्टार फर्राटा धाविका हिमा दास ने हाल ही में असम पुलिस में उप अधीक्षक (DSP) के रूप में पुलिस विभाग को ज्वाइन किया है। इसके बाद हिमा काफी चर्चा में आ गईं। 20 साल की हिमा  (Hima Das) असम की रहने वाली हैं। हिमा आईएएएफ वर्ल्ड अंडर-20 चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने वाली भारत की एकमात्र महिला धाविका हैं। उन्होंने 51.46 सेकेंड्स में रेस पूरी की थी। हिमा दास एशियाई खेलों में रजत पदक जीत चुकी हैं। उन्हें ‘ढिंग एक्सप्रेस’ के नाम से भी जाना जाता है।

हिमा दास के बचपन का सपना था पुलिस अधिकारी बनना

DSP के पद पर ज्वाइनिंग के बाद हिमा दास ने बताया कि वह बचपन से ही पुलिस अधिकारी बनने का सपना देखती आई हैं। उन्होंने बताया कि यह उनकी मां का भी सपना था। उनकी मां दुर्गापूजा के दौरान उन्हें खिलौने में बंदूक दिलाती थी। हिमा ने कहा कि मुझे जो कुछ भी मिला है, वह सब खेलों की वजह से मिला है। हिमा ने कहा कि नौकरी के साथ-साथ वो खेल और अपने करियर को जारी रखेंगी। उन्होंने कहा कि वो प्रदेश में खेल की बेहतरी के लिए काम करेंगी और असम को हरियाणा की तरह सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला राज्य बनाने की कोशिश करेंगी।

Hima das photo dsp

उम्र 20 साल, उपलब्धियां ढेर सारी, जानिए फर्राटा धाविका हिमा दास के बारे में

इन खिलाड़ियों को भी मिला है पुलिस में अधिकारी का पद

बता दें कि हिमा ही पहली ऐसी खिलाड़ी नहीं है जिन्हें पुलिस विभाग में कोई पद मिला है। इससे पहले भी भारत के दर्जनों खिलाड़ियों को खेल में उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए भारतीय पुलिस सेवाओं में अहम पद मिला है। पूर्व दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह, पेसर जोगिंदर शर्मा (हरियाणा पुलिस में डीएसपी), पूर्व हॉकी कप्तान राजपाल सिंह (मोहाली में डीएसपी), CWG गोल्ड मेडलिस्ट अखिल कुमार (गुरुग्राम पुलिस में एसीपी) और एशियन गेम्स चैंपियन कबड्डी खिलाड़ी अजय ठाकुर (हिमाचल प्रदेश में डीएसपी) समेत अनेकों नाम शामिल हैं।

Facebook Comments Box
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top