Connect with us

राज्यपाल ने राज्य स्तरीय योगासन खेल प्रतियोगिता के विजेताओं को किया सम्मानित

Latest

राज्यपाल ने राज्य स्तरीय योगासन खेल प्रतियोगिता के विजेताओं को किया सम्मानित

राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने कहा कि तीव्र इच्छाशक्ति से हम योग को खेलों में परिवर्तित कर सकते हैं जिसका व्यापक लाभ लिया जा सकता है।
राज्यपाल आज राजभवन में हिमाचल प्रदेश योगासन खेल संघ द्वारा आयोजित प्रथम राज्य स्तरीय योगासन खेल प्रतियोगिता के विजेताओं को सम्मानित कर रहे थे। उन्होंने लड़कों और लड़कियों के कुल 6 वर्गों के 18 विजेताओं को पदक एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किए।
उन्होंने कहा कि योग हमारी सदियों से चली आ रही परम्परा है और जीवनशैली का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि भारत ने दुनिया को और मानव कल्याण के लिए कुछ न कुछ दिया है। हमारी सोच कभी भी दूसरों पर आक्रमण करने की नहीं रही है। हमारी संस्कृति दूसरों के हृदय को जीतने की रही है। पूरे विश्व को हम कुछ दे सकें यही हमारी विशेषता है। योग भी हमारी इसी विशेषता का एक हिस्सा है, जो हमने दुनिया को दिया है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अथक प्रयासों से योग विश्व स्तर पर पुर्नस्थापित हुआ और अब 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाता है। इससे भारतीय सभ्यता, संस्कृति व जीवन जीने की कला की ख्याति विश्व पटल पर स्थापित हुई। इस दिशा में हमें और जागृति लाने की आवश्यकता है। उन्होंने इस कार्य में हिमाचल प्रदेश योगासन खेल संघ के प्रयासों की सराहना की।
इसमें सब जूनियर छात्राओं के वर्ग में श्रद्धा ने काँस्या पदक, निधि डोगरा ने रजत पदक व दिशा डोगरा ने स्वर्ण पदक प्राप्त किया। सब जूनियर छात्र वर्ग में संदीप ने काँस्या पदक, अभिषेक ने रजत व विश्वजीत ने स्वर्ण पदक प्राप्त किया।
जूनियर छात्राओं के वर्ग में श्रुति त्रेहन ने काँस्या, नितिका ने रजत व पूरबा भाटी ने स्वर्ण पदक प्राप्त किया। जूनियर छात्र वर्ग में हर्ष वर्धन ने काँस्या, पियूष मेहता ने रजत व हितेश कुमार ने स्वर्ण पदक प्राप्त किया।
सीनियर छात्राओं के वर्ग में कमलेश कुमारी ने काँस्या, कौशल्या देवी ने रजत व भारती ने स्वर्ण पदक प्राप्त किया। सीनियर छात्र वर्ग में दीक्षित ने काँस्या, अमित ठाकुर ने रजत व निकेतन पुंडीर ने स्वर्ण पदक प्राप्त किया।
इसके अतिरिक्त, इस ऑनलाइन योगासन खेल प्रतियोगिता में तकनीकी रूप से प्रतियोगिता का संचालन करने वाली टीम के सदस्यों-शुभम शर्मा, अनुपमा चंदेल, गोपाल अत्रि, ईशान चौहान, नवीन कुमार, विवेक सूद, हेत राम व रणजीत सिंह को भी राज्यपाल ने प्रशस्ति पत्र तथा स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।
इसके अतिरिक्त, राष्ट्रीय योगासन खेल प्रतियोगिता में हिमाचल से जज के रूप में भाग लेने वाले इं. पंकज डढ़वाल व नवीन कुमार को भी राज्यपाल ने प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।
इस अवसर हिमाचल प्रदेश योगासन खेल संघ के अध्यक्ष एवं विख्यात योग गुरु प्रो. जी.डी शर्मा ने कहा कि देवभूमि हिमाचल में योग और योगासन खेल का भविष्य उज्ज्वल है।
संघ के उपाध्यक्ष प्रो. अजय श्रीवास्तव ने राज्यपाल का भारतीय संस्कृति और योग को बढ़ावा देने के लिए आभार व्यक्त किया तथा आशा व्यक्त की कि राज्यपाल प्रदेश में योग एवं अन्य सामाजिक कार्यों के उत्थान में आम जनता का मार्गदर्शन करेंगे।

Facebook Comments Box
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top